Corona Virus के उपचार के लिए ट्रायल दवा में चीन को मिली सफलता – पढ़े पूरी खबर

0
446
corona Virus

चीन ने Corona virus के इलाज के लिए दवाओं एवं उपचार का विस्तार किया है और अन्य तरीके ढूंढे हैं जिससे हल्के मामले गंभीर नहीं बन सके और गंभीर रूप से बीमार रोगियों को भी बचाया जा सका.

Click Here : Holi Wishes, Holi Status in india 2020 

चीन ने Corona virus के इलाज के लिए दवाओं एवं उपचार का विस्तार किया है और अन्य तरीके ढूंढे हैं जिससे हल्के मामले गंभीर नहीं बन सके और गंभीर रूप से बीमार रोगियों को भी बचाया जा सका. स्वास्थ्य अधिकारियों ने यह जानकारी दी. सरकारी शिन्हुआ संवाद समिति ने बताया कि दवा टोसिलिजुमैब जिसका सामान्य ब्रांड नाम एक्टेरमा है, को कोविड-19 के जांच एवं उपचार में शामिल किया गया. चाइनीज एकेडमी ऑफ साइंसेज के उप महासचिव और शिक्षाविद झाउ क्वी ने शुक्रवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि टोसिलिजुमैब काफी प्रभावी साबित हुई है.

झाउ ने बताया कि शुरुआती क्लीनिकल ट्रायल में टोसिलिजुमैब का प्रयोग कोविड-19 के 20 गंभीर मामलों में किया गया और सभी रोगियों के शरीर का तापमान एक दिन के अंदर नीचे आ गया. 19 रोगियों को दो हफ्ते के अंदर अस्पताल से छुट्टी दे दी गई जबकि एक अन्य व्यक्ति भी ठीक हो गया. झाउ ने कहा कि वर्तमान में इस दवा का वुहान के 14 अस्पतालों में क्लीनिकल ट्रायल चल रहा है. यह शहर कोरोना वायरस के संक्रमण का केंद्र है. चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) ने शुक्रवार को बताया कि 30 और लोगों की मौत के साथ वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 3042 हो गया है. जबकि संक्रमण के पुष्ट मामलों की संख्या 80552 हो गई है. एनएचसी ने शुक्रवार को कहा कि 53726 रोगियों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.

Corona Virus भारत में कहाँ-कहाँ पहुंचा.. ?

चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ कोरोना वायरस का संक्रमण अब तक दुनिया के ज़्यादातर देशों तक पहुंच चुका है। भारत इन देशों में से एक है। भारत में यह संक्रमण पहली बार केरल में सामने आया था। पीआईबी पर मौजूद जानकारी के अनुसार, शुरुआत में केरल में तीन लोगों के संक्रमित होने का पता चला था। उनके टेस्ट-रिज़ल्ट पॉज़िटिव पाए गए थे लेकिन उन तीनों को पूरे इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई। इसके बाद से तीन और मामलों की पुष्टि हो चुकी है। जबकि छह लोगों को निगरानी में रखा गया है। और जांच रिपोर्ट का इंतज़ार किया जा रहा है। इन सभी को आइसोलेशन सेंटर में रखा गया है। इनमें से एक पॉजिटिव मामला दिल्ली का है। और एक मामला तेलंगाना में सामने आया है। तीसरा मामला जयपुर में इतावली नागरिक के जांच नमूने के पॉजिटिव पाए जाने का है।

दिल्ली का व्यक्ति इटली की यात्रा से आया है। इस शख़्स के संपर्क में आए आगरा के छह लोगों को निगरानी में रखा गया है। तेलंगाना का व्यक्ति दुबई की यात्रा से लौटा था। दिल्ली में कोराना वायरस का पहला मामला सामने आने के बाद नोएडा में दो प्राइवेट स्कूलों को अगले कुछ दिनों के लिए बंद कर दिया गया है। स्कूल प्रशासन का कहना है। कि उन्होंने एहतियात के तौर पर ये क़दम उठाया है। कोरोना वायरस से अब तक दुनिया में तीन हज़ार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। और हज़ारों की संख्या में लोग इससे संक्रमित है। ऐसे में भारत में भी इसे लेकर लोगों में डर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here